Breaking News

दिल्लीः पार्किंग के विवाद में बेटा बना हैवान, बुजुर्ग मां को मारा थप्पड़, मौके पर मौत

बुजुर्ग महिला अवतार कौर ऊपरी मंजिल पर रहने वाले शख्स की मां थी. पार्किंग को लेकर बुजुर्ग महिला का अपने बेटे रणबीर और बहू से ही विवाद हो रहा था. उनके बीच आपस में फिर बहस होने लगी. इसी बहस के दौरान बेटे रणबीर ने अपनी बुजुर्ग मां को थप्पड़ जड़ दिया.

कहते हैं इस दुनिया में इंसान के लिए मां सबसे बड़ी नेमत होती है. मां को ही ईश्वर का दूसरा रूप माना जाता है. मां के पैरों में जन्नत की बात तो हम सभी सुनते आए हैं. मगर ऐसी औलाद के बारे में आप क्या कहेंगे जो मां की मौत का सबब बन जाए. मां पर हाथ उठाए और अपनी मां को ही मौत की नींद सुला दे. जी, हां ऐसा ही मामला दिल्ली में सामने आया है. जहां एक कलयुगी बेटे ने अपनी बुजुर्ग मां को इतनी तेज थप्पड़ मारा कि उसकी मौत हो गई.

घटना बीते सोमवार की है. दोपहर 12 बजे दिल्ली पुलिस की पीसीआर को बिंदापुर इलाके से झगड़े की सूचना मिली. सूचना मिलने के बाद बिंदापुर थाने की पुलिस टीम मौके पर पहुंची. पुलिस को कॉल करने वाली 38 वर्षीय महिला सुधारा ने बताया कि ग्राउंड फ्लोर पर रहने वाली महिला अवतार कौर से पार्किंग को लेकर कहासुनी हुई थी, लेकिन बाद में हमने मामले को सुलझा लिया.

सुधारा नामक उस महिला ने पुलिस को बताया कि इसके आगे मामला नहीं बढ़ा. महिला की बात सुनकर पुलिस टीम मौके से वापस लौट गई. लेकिन पुलिस के वापस लौटने के बाद ग्राउंड फ्लोर पर रहने वाली बुजुर्ग महिला से फिर उस महिला और उसके पति का विवाद हो गया. उनके बहस होने लगी.

बुजुर्ग महिला अवतार कौर ऊपरी मंजिल पर रहने वाले शख्स की मां थी. पार्किंग को लेकर बुजुर्ग महिला का अपने बेटे रणबीर और बहू से ही विवाद हो रहा था. उनके बीच आपस में फिर बहस होने लगी. इसी बहस के दौरान बेटे रणबीर ने अपनी बुजुर्ग मां को थप्पड़ जड़ दिया. थप्पड़ लगते ही उसकी बुजुर्ग मां जमीन पर गिर गईं. इसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया. जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

ये पूरी वारदात वहां लगे एक सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई. दिल्ली पुलिस के मुताबिक अस्पताल में मृतक अवतार कौर की MLC नहीं हुई थी. और न ही इस झगड़े के बारे में पुलिस को कोई सूचना दी गई थी. लेकिन अब घटना का वीडियो वायरल होने के बाद दिल्ली पुलिस ने इस मामले पर संज्ञान लेते हुए आरोपी बेटे के खिलाफ आईपीसी की धारा 304 के तहत केस दर्ज कर लिया है.

About Next News

Check Also

इंद्रधनुषी झंडे में किस रंग का क्या मतलब है? 8 रंगों के झंडे में से हट चुके हैं 2 रंग

6 सितंबर 2018 को भारत में ऐतिहासिक फैसला सुनाया गया. इस दिन LGBT समूह को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *