Breaking News

मंदिर के बाहर भीख मांगने वाली लड़की ने की Anupam Kher से फर्राटेदार अंग्रेजी में बात, लिए ये बड़ा फैसला

हाल ही में एक ऐसा वीडियो शेयर किया है, जिसे देखकर फैंस उनकी तारीफ किए बिना रह नहीं पा रहे हैं,अनुपम खेर के इस वीडियो पर एक बच्ची उनसे दरख्वास्त कर रही है उसका सपना पूरा करने का किया वादा हाल ही में अनुपम खेर काठमांडू गए थे,जहां उन्होंने एक लड़की को देखा जो भीख मांगकर अपना गुजारा करती है,लेकिन वो फर्राटे से इंग्लिश भी बोलती है,बच्ची बताती है कि वो पढ़ना चाहती है इस पर अनुपम भी उसे पढ़ाने का वादा करते है!

अनुपम खेर ने इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है,मैंने काठमांडू में मंदिर के बाहर आरती से मिला,वह ऑरिजनली राजस्थान,इंडिया से है,उसने मुझसे कुछ पैसे मांगे और मेरे साथ फोटो खिंचवाने की डिमांड की,और फिर वह मुझसे फर्राटे से इंग्लिश में बात करने लगी,पढ़ाई को लेकर उसका पैशन देखकर मैं हैरान रह गया,यह रही हमारे बीच की बातचीत,अनुपम खेर फाउंडेशन ने उन्हें पढ़ाने का वादा किया है. जय हो!

इस वीडियो में बच्ची कह रही है,’मेरा नाम आरती है और मैं आपसे मिलकर काफी एक्साइटेड हूं,थैंक यू सो मच. मैं राजस्थान, इंडिया से हूं.’उनकी बातें सुनकर अनुपम खेर उनकी तारीफ करते हुए कहते हैं कि काफी अच्छा इंग्लिश बोलती हैं,अनुपम ने पूछा कि वह इतना अच्छा इंग्लिश कैसे बोल लेती हैं!

आरती कहती हैं- मैं भीख मांगती हूं. मैं स्कूल नहीं जाती,मैं भीख मांगते हुए थोड़ा-थोड़ा इंग्लिश सीखती गई और अब मैं पूरा सीख गई,अनुपम ने पूछा- तुम भीख क्यों मांग रही हो,तुम्हें कुछ काम करना चाहिए,इसपर आरती कहती हैं- क्योंकि मैं एक गरीब परिवार से हूं, इसलिए भीख मांगना पड़ता है,अनुपम फिर कहते हैं- तुम अच्छी इंग्लिश बोलती हो,तुम्हें कोई भी जॉब पर रख लेगा. इसपर आरती कहती है- कोई जॉब पर नहीं रखता,वे कहते हैं कि तुम इंडिया से हो, यहां क्यों आए!

आरती बताती है- क्योंकि इंडिया में भी वही दिक्कत है,लेकिन यहां कुछ बेहतर है,अनुपम ने पूछा कि इंडिया में कौन से स्कूल गई हो,जिसपर उसने कहा कि मैं कोई भी स्कूल में नहीं गई,आरती कहती है- मैं कोई स्कूल नहीं गई, लेकिन मुझे स्कूल जाना बहुत पसंद है,मैं स्कूल जाना चाहती हूं,प्लीज़ मेरी मदद कीजिए कि मैं स्कूल जा सकूं. वह कहती है- यदि मैं स्कूल गई तो मेरा फ्यूचर बदल जाएगा, मैं हमेशा लोगों से कहती हूं कि स्कूल जाने में मेरी मदद करें लेकिन किसी ने कोई मदद नहीं की,इसके बाद अनुपम उससे उसका फोन नंबर लेते हैं और उनसे वादा करते हैं कि वह स्कूल जाने में उसकी मदद करेंगे,अनुपम की बातें सुनकर आरती खुश हो जाती है और कहती है- मैं जानती हूं कि यदि मैं पढ़ाई में मेहनत करूंगी तो मेरी लाइफ मेरा फ्यूचर सब बदल जाएगा!

About Next News

Check Also

इंद्रधनुषी झंडे में किस रंग का क्या मतलब है? 8 रंगों के झंडे में से हट चुके हैं 2 रंग

6 सितंबर 2018 को भारत में ऐतिहासिक फैसला सुनाया गया. इस दिन LGBT समूह को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *